Shabd

जिसने दिया जन्म

By Ansulika Paul

जिसने दिया जन्म, उसके साथ जीना, जिंदगी का एक भाग है। उनके जाने के बाद, जिसने दी है जिंदगी, उसके…

Blood

By Ansulika Paul

Baby! I lost you in a shy, I could not even bid a good bye. I dumped you in a…

जब कुछ न हो हमारे पास

By Ansulika Paul

  जब कुछ न हो हमारे पास, पास तुम्हारे वही हो जो सिर्फ़ तुम्हारा है। वह जो सांसों से सांसों…

She

By Ansulika Paul

She was seen lying dead on her bed, With few blood stains around her wardrobe, She was naked and drenched,…

He touched me

By Alice Mathews Martin

He touched me Where it hurt most, And healed the wound, When others couldn’t.   He touched me When I…

सोच रहे हो

By Ansulika Paul

  सोच रहे हो  “कैसे जाऊं उसके सामने?  उसने मां को खोया है?  कैसे समेटूंगा उसको बाहों में? टूट कर…

घर के एक कोने से

By Anjali Deshlahare

घर के एक कोने से मैं सिर्फ उनके रोने की आवाज सुन पा रही थी, उनके दर्द को सुन पा…

नज़रे मिली

By Ansulika Paul

नज़रे मिली जब धुंधली आंखों से, मानो ऐसा लगा, मेरी आंखों में कल तलाश रही थी। कह रही थी मुझसे….…

आपकी तारीफ़ में

By Girja Shankar

  अब क्या कहें आपकी तारीफ़ में, कहने के लिए लफ्ज़ों की कमी है…! और अगर करें भी आपकी तारीफ़…

The abrupt end

By Ansulika Paul

कौन कहता है हर रात के बाद सुबह होती है, कई बार रात का अंधेरा ही सवेरा बन जाता है।…

Archive

Archives

Shabd

It is a platform for poets and writers to share their talent with the world. Shabd provides space to poems, stories, articles, shayaris, and research articles. If you want to post, please log in first; after that, you will see the 'User Submitted Post' icon in the header, which you can click to submit your post.